पूर्व सांसद की मांग, बाढ़ पीड़ित किसानों की इस वर्ष की मालगुजारी तथा ऋण पर ब्याज हो माफ़

0
269
 किशन कुमार ठाकुर की रिपोर्ट

सीतामढ़ी : शहर के रेडक्रॉस सभागार में रविवार को जननायक कर्पुरी ठाकुर विचार केंद्र के तत्वधान में शहादत दिवस सः विचार संगोष्ठी का आयोजन किया गया। सर्वदलीय संगोष्ठी में ज़िले में बाढ़ और उसके स्थायी समाधान पर विशेष चर्चा हुई।

बिहार में नौकरी के अवसर

‌1998 में जिले की ज्वलंत समस्याओं को लेकर धरना- प्रदर्शन कर रहे नेताओं पर हुई गोलीबारी में स्थानीय जनमानस की नज़र में शहीद हुये पूर्व सांसद नवल किशोर राय के सभी साथियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन सभी शहीदों को सरकार द्वारा शहीद का दर्जा मिले इसकी भी मजबूती से मांग उठी।

‌बैठक की अध्यक्षता कर रहे पूर्व सांसद नवल किशोर राय ने बाढ़ के कारण जिले के सभी क्षतिग्रस्त सड़क, पुल, पुलिया, रेल मार्ग को शीघ्र मरम्मत कर चालू कराने की मांग प्रदेश सरकार के सामने रखा।

पूर्व सांसद द्वारा किसानों की हित में कई मांगे रखी गयी जिसमे किसानों को फसल की इनपुट राशि, उचित मुआवजा और इस वर्ष की मालगुजारी माफ करना शामिल है।

सीतामढ़ी एवं शिवहर जिले को पूर्ण रूप से बाढ़ग्रस्त घोषित करने पर भी जोर दिया गया एवं समय-समय पर पशुधन को सही चिकित्सा उपलब्ध कराने की भी मांग रखी गयी।

प्रलयंकारी बाढ़ से किसानों के धान का बिचड़ा समाप्त हो चुका है जिससे किसान असमंजस की स्थिति में हैं। वहीं ज़िले की स्थिति को देख हजारों किसान व मज़दूर अन्य प्रदेश को पलायन कर रहे हैं।

‌कुछ अन्य मुद्दे भी इस संगोष्ठी में छाये रहे जैसे सीतामढ़ी शहर के मेहसौल रेल्वे ओवरब्रिज के अधुरे कार्य को पूर्ण करना, शहर के जाम से निजात दिलाना, शहर के विभिन्न जगहों पर जलजमाव को दूर करना, इत्यादि।

बैठक में जेडीयू नेता राजेश चौधरी, सुदीष्ट कुमार, सीके झा, नरेंद्र सिंह, राजेश कुमार समेत सैकड़ों लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here