Sunday, January 26, 2020
पटना/ राँची : जुलाई महीने में मानसून की शुरूआत हो जाती है और कुछ क्षेत्रों में बारिश के साथ धूल वाले तूफान भी आते हैं। ऐसे समय में गर्मी और नम मौसम के कारण पशुओं को बीमारियों से बचाया...
नयी दिल्ली : गोवंश के संरक्षण और संवर्द्धन के लिए ‘राष्ट्रीय कामधेनु आयोग’ के गठन के प्रस्ताव को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को मंजूरी दे दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक के बाद जारी एक बयान...
पटना : भारत में वर्षा ऋतु का समय 15 जून से 15 सितम्बर तक का होता है। इस दौरान वातावरण में अधिक आद्रता होने की वजह से वातावरण के तापमान में अधिक उतार चढाव देखने को मिलता है जिसका...
गर्मी के मौसम में पशुओं को अपने शरीर का तापमान सामान्य बनाएं रखने में काफी दिक्कतें आती हैं। हीट स्ट्रेस के कारण जब पशुओं के शरीर का तापमान 101.5 डिग्री फेरनेहाइट से 102.8 फेरनहाइट तक बढ़ जाता है, तब...
मछलीपालन हेतु तालाब की तैयारी बरसात के पूर्व ही कर लेना अच्छा रहता है। मछलीपालन सभी प्रकार के छोटे-बड़े मौसमी तथा बारहमासी तालाबों में किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त ऐसे तालाब जिनमें अन्य जलीय वानस्पतिक फसलें जैसे- सिंघाड़ा,...
किसान भाइयों आज ऐसे घरेलू उपाय के बारे में बताएंगे जो गाय और भैंस का दूध बढाने में कारगर साबित होता है। उपाय बहुत सरल है और आपको बहुत ही जल्द इसके नतीजे भी मिलने लगेंगे। सामग्री - इसको बनाने...
पशुओं को हमेशा साफ सुथरे माहौल में रखना चाहिए. बीमार होने पर पशुओं को सेहतमंद पशुओं से तुरंत अलग कर देना चाहिए और उन का इलाज कराना चाहिए. इस के अलावा पशुपालकों को निम्नलिखित बातों पर ध्यान देना चाहिए...

ताजा खबरें

कृषि जगत

व्यापार

जीवन शैली